सरकार के अंग

 सरकार के अंग 


विषय – सरकार के अंग

सरकार के तीन अंग होते हैं – कार्यपालिका, विधायिका, न्‍यायपालिका जो समाज को बेहतर बनाने के लिए कार्य करती है।

संघ (प्रशासन)

भारतीय संविधान के भाग 5 में Union (संघ) के बारे में चर्चा की गयी है। संघ का अर्थ यहां पर केन्‍द्र सरकार से है। अर्थात संविधान का जो भाग 5 है। उसमें हमें केन्‍द्र की चर्चा करनी है। क्‍योंकि आप जानते होगे कि भारत में शासन प्रणाली वो अलग-अलग स्‍तर बाँटा हुआ है।

सबसे पहले आपको केन्‍द्र सरकार मिलती है। उसके बाद आपको राज्‍य सरकार मिलती है। और उसके लोकल सरकार (स्‍थानीय शासन) मिलती है। और संविधान के भाग 5 में हमें अनुच्‍छेद 52 से लेकर अनुच्‍छेद 151 की चर्चा करनी है।

संघ- Union

किसी भी देश में शासन करने वाली इकाईयों को संघ कहा जाता है। किसी भी देश की जो Government होती है, तो उसमें शासन की तीन इकाई होती है। भारतीय संविधान में भारत सरकार की शासन की 3 इकाई को संविधान के भाग 5 में दिया गया है।

संघ


  1. विधायिका
  2. कार्यपालिका
  3. न्‍यायपालिका

1. विधायिका – विधायिका का अर्थ होता है, विधि का निर्माण करना। संघ की एक ऐसी इकाई जो Law कानून को बनाती है। 

 

2. कार्यपालिका – जो Law (कानून) विधायिका के द्वारा बनाये जाते हैं। उन कानूनों को Empement (लागू करना) कार्यपालिका का काम होता है।

 

3. न्‍यायपालिका – न्‍यायपालिक का कार्य जांच करना होता है। कि भारत में चीजें सही तरीके से घटती हो रही है या नहीं हो रही है। विधायिका, कार्यपालिका और न्‍यायपालिका अपना काम सही तरीके से कर रही है, कि नहीं कर रही है। इन सब बातों की जांच करने का कार्य न्‍यायपालिका के पास होता है। 

भारत में विधायिका केन्‍द्र सरकार और राज्‍य सरकार दोनों की होती है। वहीं कार्यपालिका भी केन्‍द्र सरकार और राज्‍य  सरकार दोनों की होती है। हांलाकि न्‍यायपालिका भारत में एकात्‍मक है।


संघ की कार्यपालिका – 

संघ की कार्यपालिका को भारतीय संविधान के भाग 5 में अनुच्‍छेद 52 से लेकर अनुच्‍छेद 78 तक विवरण दिया गया है। और कार्यपालिका में देश के राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, मंत्रीमंडल, और भारत का महान्‍यायवादी शामिल है। 

 

संघ की विधायिका

सं‍घ की विधायिका का विवरण भारतीय संविधान के भाग 5 में अनुच्‍छेद 79 से लेकर के अनुच्‍छेद 123 तक दिया गया है। विधायिका में संसद के अंंतर्गत (लोकसभा और राज्‍य सभा) आता है।

 

संघ की न्‍यायपालिका

सं‍घ की न्‍यायपालिका का विवरण भारतीय संविधान में भाग 5 में अनुच्‍छेद 124 से लेकर अनुच्‍छेद 147 तक दिया गया है।

 

Read More Post……..

Right to Freedom – स्‍वतंत्रता का अधिकार

FAQ – संघ या सरकार के अंग

 

संघ का उल्‍लेख भारतीय संविधान के किस भाग में किया गया है?

संघ का उल्‍लेख भारतीय संविधान में भाग 5 में किया गया है।

सं‍घ की कार्यपालिका के अन्‍तर्गत कौन-कौन आता है?

संघ की कार्यपालिका के अन्‍तर्गत भारत के राष्‍ट्रपत‍ि, उपराष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, मंत्रीमंडल आदि।

सरकार के कितने अंग होते हैं?

सरकार के 3 अंग होते हैं। कार्यपालिका, विधायिका, और न्‍यायपालिका।

विधायिका किसे कहते है?

विधायिका का अर्थ होता है, विधि (कानून) का निर्माण करना। संघ की एक ऐसी इकाई जो कानून को बनाती है। 

कार्यपालिका किसे कहते है?

जो कानून (विधायिका) के द्वारा बनाये जाते हैं। उन कानूनों को Empement (लागू करना) कार्यपालिका का काम होता है।
 

न्‍यायपालिका किसे कहते हैं?

न्‍यायपालिक का कार्य जांच करना होता है। कि भारत में चीजें सही तरीके से घटती हो रही है या नहीं हो रही है। विधायिका, कार्यपालिका और न्‍यायपालिका अपना काम सही तरीके से कर रही है, कि नहीं कर रही है। इन सब बातों की जांच करने का कार्य न्‍यायपालिका के पास होता है। 

भारत में कार्यपालिका किस-किस की होती है?

भारत में कार्यपालिका केन्‍द्र सरकार और राज्‍य सरकार दोनों की होती है।

भारत में विधायिका किस-किस की होती है?

भारत में विधायिका केन्‍द्र सरकार और राज्‍य सरकार दोनों की होती है।

संघ की कार्यपालिका को भारतीय संविधान के किस भाग में दिया गया है?

संघ की कार्यपालिका को भारतीय संविधान के भाग 5 में अनुच्‍छेद 52 से अनुच्‍छेद 78 तक दिया गया है।

संघ की विधायिका को भारतीय संविधान के किस भाग में दिया गया है?

संघ की विधायिका को भारतीय संविधान के भाग 5 में अनुच्‍छेद 79 से अनुच्‍छेद 123 तक दिया गया है।

संघ की न्‍यायपालिका को भारतीय संविधान के किस भाग में दिया गया है?

संघ की न्‍यायपालिका को भारतीय संविधान के भाग 5 में अनुच्‍छेद 124 से अनुच्‍छेद 147 तक दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share
error: Content is protected !!
Corbett National Park India China relations Musical Instruments Of Uttarakhand State bird of Uttarakhand उत्तराखंड का राज्य पशु