उत्तराखंड के राष्‍ट्रीय उद्यान

उत्तराखंड के राष्‍ट्रीय उद्यान


 विषय – उत्तराखंड के राष्‍ट्रीय उद्यान 

देश में वन्‍य जीव संरक्षण को तीन भागों में बॉंटा गया है।

  1. राष्‍ट्रीय उद्यान।
  2. वन्‍य जीव अभ्‍यारण।
  3. जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र (बायोस्फियर रिजर्व)।

उत्तराखंड में स्थित राष्‍ट्रीय उद्यान

  1. कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान।
  2. गोविंद राष्‍ट्रीय उद्याान।
  3. नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान।
  4. फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान।
  5. राजाजी राष्‍ट्रीय उद्यान।
  6. गंगोत्री राष्‍ट्रीय उद्यान।

1. कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान

  • कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन 1936 में हुई थी। जो उत्तराखंड राज्‍य के पौड़ी और नैनीताल जनपद में स्थित है। जो 520.82 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला है।

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान


सन 1936 में जब इस राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना की गई थी। तो उस समय इस राष्‍ट्रीय उद्यान का नाम हेली राष्‍ट्रीय उद्यान था। उसके बाद जब भारत स्‍वतंत्र हुआ तो इसका नाम हेली राष्‍ट्रीय उद्यान से बदलकर रामगंगा नेशनल पार्क रखा गया।

फिर देश की आजादी के 10 वर्ष बाद सन 1957 में इस राष्‍ट्रीय उद्यान का नाम रामगंगा नेशनल पार्क से बदलकर कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान किया गया।

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान भारत का ही नहीं बल्कि एशिया का प्रथम राष्‍ट्रीय उद्यान है। इस राष्‍ट्रीय उद्यान का प्रवेश द्वार नैनीताल जनपद के ढिकाला में है। 1 अप्रैल 1973 को भारत में प्रोजेक्‍ट टाइगर की शुरूआत कार्बेट नेशनल पार्क से ही की गई थी। और इस नेशनल पार्क को भारत का पहला प्रोजेक्‍ट टाइगर (बाघ संरक्षित) पार्क घोषित किया गया।

महत्‍वपूर्ण जानकारियां

  • कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान भारत का ही नहीं एशिया का पहला राष्‍ट्रीय उद्याान है।
  • इस राष्‍ट्रीय उद्यान के मध्‍य से पश्चिमी रामगंगा नदी बहती है।
  • इस राष्‍ट्रीय उद्यान के मध्‍य में पाटली दून स्थित है।
  • व इस राष्‍ट्रीय उद्यान के नाम से प्रसिद्ध जिम कार्बेट म्‍यूजियम नैनीताल (कालाढूंगी) में स्थित है। 
  • यहां पर बाघ के साथ-साथ घड़‍ियाल की संंरक्षण की व्‍यवस्‍था भी की गयी है।
  • इस राष्‍ट्रीय उद्यान का मुख्‍यालय नैनीताल (कालाढूंगी में स्थित है।

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान को चार जोन्‍स में बांटा गया है।

  1. झिरना रेंज
  2. बिजरानी रेंज 
  3. दुर्गादेवी रेंज 
  4. ढिकाला रेंज 

 

कार्बेट नेशनल पार्क के प्रमुख जीव

बाघ, हाथी, तेंदुआ, हिरन, सांभर, मगरमच्‍छ आदि।

 


2. गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान

गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन 1980 में की गई थी। जो उत्तराखंड राज्‍य के उत्तरकाशी जिल्‍ले में स्थित है। इस राष्‍ट्रीय उद्यान क्षेत्रफल 472 वर्ग Km है। तथा इस राष्‍ट्रीय उद्यान का मुख्‍यालय देहरादून में स्थित है। और इस राष्‍ट्रीय उद्यान का नाम गोविंद बल्‍लव पंथ के नाम पर रखा गया है।

महत्‍वपूर्ण जानकारीयां

  • इस राष्‍ट्रीय उद्यान के मध्‍य से टोंस नदी बहती है।
  • तथा इस उद्याान के मध्‍य हरि की दून स्थित है।
  • गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान के मध्‍य में रूइसियार नामक झील स्थित है।
  • यहां पर मुख्‍यत: हिम तेंदुआ का सरक्षण किया जाता है।

 

गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान के प्रमुख जीव

हिम तेंदुआ, काला भालू, कस्‍तूरी मृग, भूरा भालू, मोनाल इत्‍यादि जीव पाये जाते हैं।

 


3. गंगोत्री राष्‍ट्रीय उद्यान

गंगोत्री राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन 1989 में हुई थी। जो उत्तराखंड राज्‍य के उत्तरकाशी जिल्‍ले में स्थित है। यह 2390 वर्ग km क्षेत्र में फैला हुआ है। जो क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखंड राज्‍य का सबसे बडा नेशनल पार्क( राष्‍ट्रीय उद्यान ) है।

 

गंगोत्री राष्‍ट्रीय उद्यान के जीवों के नाम

हिम तेंदुआ, हिमालयन भालू, कस्‍तूरी मृग, इत्‍यादि जीव।

 


4. नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान

नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान उत्तराखंड के चमोली जिल्‍ले में स्थित है। जिसकी स्‍थापना सन 1982 में हुई थी। जो 624 वर्ग km क्षेत्रफल में फैला हुआ है। व इस राष्‍ट्रीय उद्यान का मुख्‍यालय जोशीमठ में स्थित है।

नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान को यूनेस्‍को द्वारा सन 1988 में विश्व धरोहर स्‍थल सूची में शामिल किया गया।

 


5. फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान

फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान उत्तराखंड राज्‍य के चमोली जनपद में स्थित है। जिसकी स्‍थापना सन 1982 में हुई थी। व इस नेशनल पार्क का क्षेत्रफल 87.5 वर्ग km क्षेत्र में फैला हुआ था। इस राष्‍ट्रीय उद्यान का मुख्‍यालय चमोली जिल्‍ले के जोशीमठ स्थित है।


फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान


फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान की खोज सन 1931 में फ्रैंक स्‍माइथ ने की थी। व क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखंड राज्‍य का सबसे छोटा राष्‍ट्रीय उद्यान फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान है।

इस राष्‍ट्रीय उद्यान को स्‍कंद पुराण के केदराखंड में नंद कानन कहा गया है। यह घाटी नर व गंधमादन पर्वतों के बीच में स्थित है।

 

इस उद्यान के प्रम‍ुख जीव

कस्‍तूरी मृग, गुलदार, भरल, हिमालयन भालू आदि।

 


Read More Post….

उत्तराखंड के दर्रे

FAQ – उत्तराखंड के राष्‍ट्रीय उद्यान

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन कब हुई थी?

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन 1936 में हुई थी।

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान किस जिल्‍ले में पड़ता है?

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान पौड़ी और नैनीताल जिल्‍ले में पड़ता है।

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान का प्रवेश द्वार कहां से है?

कार्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान का प्रवेश द्वार नैनीताल जनपद के ढिकाला से है।

एशिया का प्रथम नेशनल पार्क कौन-सा है?

एशिया का प्रथम नेशनल पार्क कार्बेट नेशलन पार्क है।

किस नेशनल पार्क को भारत का पहला प्रोजेक्‍ट टाइगर (बाघ संरक्षित) पार्क घोषित किया गया।

कार्बेट नेशनल पार्क को।

भारत में प्रोजेक्‍ट टाइगर की शुरूआत किस नेशनल पार्क से की गई थी?

भारत में प्रोजेक्‍ट टाइगर की शुरूआत 1 अप्रैल 1973 कार्बेट नेशनल पार्क से की गई थी।

गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना कब की गई थी?

गोविंद राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना सन 1980 में की गई थी।

क्षेत्रफल की दृष्टि उत्तराखंड राज्‍य का सबसे बडा ( राष्‍ट्रीय उद्यान ) कौन है?

क्षेत्रफल की दृष्टि उत्तराखंड राज्‍य का सबसे बडा ( राष्‍ट्रीय उद्यान ) गंगोत्री राष्‍ट्रीय उद्यान है। यह 2390 वर्ग km क्षेत्र में फैला हुआ है।

नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना कब की गई थी?

नंदादेवी राष्‍ट्रीय उद्यान सन 1982 में की गई थी। जिसका मुख्‍यालय जोशीमठ में स्थित है।

फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान की स्‍थापना कब की गई थी?

फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान उत्तराखंड राज्‍य के चमोली जिल्‍ले में स्थित है। जिसकी स्‍थापना सन 1982 में हुई थी।

फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान की खोज किसने की थी?

फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान की खोज फ्रैंक स्‍माइथ ने की थी।

क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखंड राज्‍य का सबसे छोटा राष्‍ट्रीय उद्यान कौन-सा है?

क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखंड राज्‍य का सबसे छोटा राष्‍ट्रीय उद्यान फूलों की घाटी राष्‍ट्रीय उद्यान है। जो 87.5 वर्ग km क्षेत्र में फैला हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share
error: Content is protected !!